Search
Close this search box.

ओमप्रकाश राजभर की झाड़-फूंक करवानी पड़ेगी: अखिलेश यादव

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पर टिप्पणी करते हुए अखिलेश ने कहा कि राजभर जी, तो यहाँ है,लेकिन उनके अंदर आत्मा किसी और की है

समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनावों में अपने चाचा शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी और ओमप्रकाश राजभर की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ गठबंधन किया था। लेकिन पिछले दिनों समाजवादी पार्टी ने एक पत्र जारी कर इन दोनों ही पार्टियों से अपनी राहें जुदा कर ली है। आज एक बार फिर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव और ओमप्रकाश राजभर को लेकर एक बड़ा बयान दिया है।
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पर टिप्पणी करते हुए अखिलेश ने कहा कि राजभर जी, तो यहाँ है,लेकिन उनके अंदर आत्मा किसी और की है। इसलिए जैसे गांव देहात में झाड़-फूंक होता है, उसी तरह से उनकी भी झाड़-फूंक करवानी पड़ेगी. वही, ओमप्रकाश राजभर को केंद्र से सुरक्षा मिलने के सवाल   के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि जो बीजेपी को खुश करेगा उसे ही सुरक्षा मिलेगी।
बता दें कि बीती 23 जुलाई को समाजवादी पार्टी ने शिवपाल यादव और ओमप्रकाश राजभर को एक खुला पत्र लिखकर पार्टी छोड़ने के लिए स्वतंत्र कर दिया था। इस पत्र में लिखा गया था कि माननीय शिवपाल यादव जी, अगर आपको लगता है कि कहीं और आपको ज्यादा सम्मान मिलेगा तो आप वहां जाने के लिए स्वतंत्र है। इसी तरह सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को लिखे पत्र में पार्टी ने लिखा था कि आप लगातार बीजेपी को मजबूत करने का काम कर रहे है। आपको लगता है कि कहीं और आपको ज्यादा सम्मान मिलेगा तो आप वहां जाने के लिए स्वतंत्र है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।