ईस्टर्न पेरीफेरल और यमुना एक्सप्रेसवे को जोड़ने वाले इंटरचेंज के कार्य का मुख्य सचिव ने किया शुभारंभ-interchange Connecting Eastern Peripheral And Yamuna Expressway

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

ईस्टर्न पेरीफेरल और यमुना एक्सप्रेसवे को जोड़ने वाले इंटरचेंज के कार्य का मुख्य सचिव ने किया शुभारंभ

उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा और जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने ग्राम जगनपुर अफजलपुर के पास ईस्टर्न पेरिफेरल पर उतार-चढ़ाव के लिए इंटरचेंज के कार्य का शुभारंभ किया। यह इंटरचेंज 123 करोड रुपए की धनराशि से बनकर तैयार होगा, जो लगभग 18 माह में बनकर तैयार हो जाएगा।

HIGHLIGHTS

  • ईस्टर्न पेरिफेरल पर उतार-चढ़ाव के लिए इंटरचेंज के कार्य का शुभारंभ
  • इंटरचेंज 123 करोड रुपए की धनराशि से बनकर तैयार होगा
  • लगभग 18 माह में बनकर तैयार हो जाएगा

नोएडा, ग्रेटर नोएडा बिना जाए सीधे मेरठ और गाज़ियाबाद जा सकेंगे

पूरे विधि-विधान के साथ इंटरचेंज के कार्य का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने कहा कि यह इंटरचेंज ज़ेवर में बनने वाले नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए मील का पत्थर साबित होगा तथा नोएडा हवाई अड्डे से गाज़ियाबाद, मेरठ, सहारनपुर के लोगों को भी सहूलियत होगी। साथ ही आगरा, मथुरा, फिरोजाबाद, हाथरस के लोग भी इंटरचेंज बनने पर नोएडा, ग्रेटर नोएडा बिना जाए सीधे मेरठ और गाज़ियाबाद जा सकेंगे।

ट्रैफिक की समस्या से राहत मिलेगी और धन और समय की भी बचत

इस मौके पर उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा कि इस इंटरचेंज के बनने से नोएडा हवाई अड्डे की कनेक्टिविटी और सुगम होगी। ट्रैफिक की समस्या से राहत मिलेगी और धन और समय की भी बचत होगी। गौरतलब है कि इंटरचेंज बनाने की मांग काफी लंबे समय से उठ रही थी। किसानों की मांग को लेकर यह इंटरचेंज का कार्य रुक गया था, लेकिन अब किसानों की मांगों को मान लिया गया है और उन्हें मुआवजा दिया जा रहा है। इसके बाद यह कार्य प्रारंभ हो गया है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight + eighteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।