Search
Close this search box.

एक IAS की कितनी दिन की होती है छुट्टी ? रोज़ाना करते हैं इतने घंटे काम

IAS Office How Holidays Work

IAS Office How Holidays Work: एक आईएएस अधिकारी के काम के घंटों में कोई निश्चितता नहीं है। वैसे आधिकारिक तौर पर उनका काम का समय सुबह 9 या सुबह 9.30 बजे से शाम 5 बजे तक है। काम के बोझ और जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए उनके (IAS Office How Holidays Work) ड्यूटी ऑवर्स रात को आठ या नौ बजे तक बढ़ाया भी जा सकता है। काम को देखते हुए वे 13-14 घंटे तक व्यस्त रह सकते हैं। इसका मतलब है कि वे सप्ताह में 70-80 घंटे तक काम करते हैं। तो आइए जानते हैं कि एक आईएएस अधिकारी को कितने घंटे काम करना होता है।

जिम्मेदारी और कर्तव्य

एक आईएएस अधिकारी को इतने लंबे काम के घंटों में किस तरह की भूमिका निभानी पड़ती है। वे भारत सरकार के दिए गए (IAS Office How Holidays Work) क्षेत्र के तहत कानून और व्यवस्था, नीति निर्माण और कार्यान्वित नीतियों का निरीक्षण करते हैं।

ये हैं काम, जिन्हें वे करते हैं

1. विभिन्न विभागों के कार्यों का समन्वय 2. राजस्व प्रशासन, सामान्य प्रशासन और विकासात्मक प्रशासन चलाना। वे इन सभी प्रशासनों को सुचारू रूप से (IAS Office How Holidays Work) चलाने के लिए जिम्मेदार हैं 3. जिस क्षेत्र के अंतर्गत उन्हें काम करने के लिए दिया गया है, उससे राजस्व का संग्रहण 4. अंतरविभागीय मुद्दों का समाधान 5. वे सिविल सेवाओं और देश की राजनीतिक व्यवस्था के बीच की कड़ी हैं 6. दैनिक रिपोर्ट की व्यवस्था करना 7. क्षेत्रों एवं आयोजनों का निरीक्षण 8. नीति बनाना और उस क्षेत्र का निरीक्षण करना जहां नीतियां लागू की जाती हैं। इसके सुचारू संचालन के लिए उन्हें प्रभारी बनाया गया है 9. आईएएस अधिकारी को फील्ड जॉब या असाइनमेंट भी दिए जाते हैं 10. कानून एवं व्यवस्था का पालन कराना 11. देश के (IAS Office How Holidays Work) जरूरतमंद और गरीबी लोगों की सेवा करना 12. वे कलेक्टर या सचिवालय में कार्य कर सकते हैं 13 प्रशासन में प्राकृतिक आपदाओं, दुर्घटनाओं और दंगों पर प्रतिक्रिया देने के लिए जिम्मेदार 14. कभी-कभी काम और उसकी तात्कालिकता के अनुसार यात्रा करना आवश्यक होता है 15. नियमित बैठकें एवं सम्मेलन।

IAS अधिकारी 1 साल में इतनी छुट्टियों का होता है हकदार

1.लगभग 20 दिनों की राजपत्रित या राष्ट्रीय छुट्टियां 2 दो दिनों के लिए प्रतिबंधित छुट्टियां 3. आठ दिनों के लिए आकस्मिक अवकाश या सीएल 4. लगभग 104 दिनों का सप्ताहांत । 5:30 दिन की सवैतनिक छुट्टी 6. 20 दिनों के लिए आधे वेतन वाली छुट्टियां।

विशेष परिस्थितियों में दी गईं अतिरिक्त छुट्टियां

  1. पितृत्व अवकाश- एक पिता प्रत्येक बच्चे के जन्म के लिए 15 दिन की छुट्टी ले सकता है (अधिकतम दो बच्चे)2 स्टडी लीव- पढ़ाई के लिए दो से तीन साल की छुट्टी ली जा सकती है। पाठ्यक्रम सार्वजनिक मामलों से संबंधित होना चाहिए। 3. मातृत्व अवकाश- एक आईएएस (IAS Office How Holidays Work)अधिकारी मां अपने नवजात शिशु की देखभाल के लिए 180 दिनों की छुट्टी ले सकती है। 4. दत्तक ग्रहण अवकाश- एक महिला 180 दिन की छुट्टी ले सकती है जबकि एक पुरुष 15 दिन की  5. अवैतनिक अवकाश- पांच वर्ष के लिए।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − 7 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।