शख्स ने पहनी 20 लाख रुपयों के नोटों की माला, कई फीट लंबी आई नजर

20 lakh Notes Garland

20 lakh Notes Garland: जल्द ही, शादियों का समय आ जाएगा। आपने शादियों में एक खास बात देखी होगी – दूल्हा पैसों से बनी माला पहनता है। कभी-कभी यह माला नकली पैसों से बनाई जाती है, लेकिन कभी-कभी यह असली पैसों से भी बनाई जाती है। हालाँकि, असली पैसों की मालाएँ छोटी होती हैं और उनमें कम मूल्य के नोट होते हैं। क्या आपने कभी किसी को बहुत फीट लंबी नोटों से बनी माला पहने देखा है? एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक व्यक्ति पैसों से बनी माला पहन रहा है जो एक इमारत जितनी ऊंची है।

20 लाख रूपये की है माला

 

View this post on Instagram

 

A post shared by dilsad khan (@dilshadkhan_kureshipur)

Courtesy: वायरल वीडियो इंस्टाग्राम पर @dilshadkhan_kureshipur नाम के अकाउंट से शेयर किया गया

इंस्टाग्राम पर एक वीडियो है जिसे @dilshadkhan_kureshipur नाम के किसी व्यक्ति ने पोस्ट किया है। ये शख्स शायद हरियाणा के कुरेशीपुर नाम के गांव का रहने वाला है ऐसा अंदाज़ा इनके यूजरनेम से लगाया जा सकता हैं। वीडियो में पैसों से बनी एक बहुत लंबी माला दिखाई गई है। ये वीडियो कहां का है ये तो ठीक से पता नहीं है लेकिन ये ऑनलाइन काफी पॉपुलर हो गया है क्योंकि माला की कीमत 20 लाख रुपये है ऐसा कैप्शन में लिखा गया हैं।

लोगों ने दिए वीडियो पर रिएक्शन

20 lakh Notes Garland
20 lakh Notes Garland

वीडियो में एक शख्स पैसों से बना हुआ लंबा हार लेकर छत पर चढ़ गया है। हार इतना लंबा था कि वह छत से जमीन पर गिर गया। आस-पास मौजूद बाकी लोग आश्चर्य से देख रहे थे। हार में 500 रुपये के नोट थे और इसका आकार फूल जैसा था। आमतौर पर लोग शादियों में इस तरह की मालाएं पहनते हैं। हम निश्चित रूप से वीडियो को देख कर ये नहीं जानते कि यह किसी शादी के लिए था, लेकिन यह एक बहुत बड़ी माला था। इस वीडियो को काफी लोगों ने देखा है और इस पर कमेंट भी किए हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 10 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।