इस Restaurant में खाना नहीं बल्कि ये खाने पहुंचते हैं लोग, Customer की लगती है लंबी Line

Restaurant People Come Get Slapped Video

Restaurant People Come Get Slapped Video: अगर कस्टमर किसी स्टाफ से थप्पड़ खाना चाहता है तो 500 येन यानी 283 रुपए का अधिभार भी है।

Restaurant People Come Get Slapped Video

खाना खाने नहीं बल्कि थप्पड़ खाने आते हैं लोग यहां

रेस्टोरेंट में लोग खाना-खाने जाते हैं। अपने पसंदीदा डिश का आनंद और लुफ्त उठाते हैं। लेकिन अब एक जापानी रेस्टोरेंट की खूब चर्चा हो रही है। इस रेस्टोरेंट में लोग खाना-खाने या पसंदीदा डिश खाने नहीं बल्कि थप्पड़ खाने के लिए आते हैं। यह सुनकर आपको यकीनन हैरानी होगी। लेकिन यह सच है।

Restaurant People Come Get Slapped Video

जापान के नागोया में स्थित है ये रेस्टोरेंट

बता दें, इस रेस्टोरेंट का Shachihokoya-ya नाम है। जो जापान के नागोया में स्थित है। इस रेस्टोरेंट की खासियत यह है कि यहां लोग पैसे देकर थप्पड़ खाते हैं। इसका एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें देखा जा सकता है कि महिलाएं रेस्टोरेंट में पहुंचे लोगों को थप्पड़ मार रही है। यह वीडियो देखकर लोग काफी हैरानी में हैं। थप्पड़ खाने के लिए लोग 300 जापानी येन (170 रूपये) देते हैं। स्टाफ से थप्पड़ खाना चाहते हैं तो 500 येन (283 रुपए) का अधिभार भी है।

Courtesy ; वायरल वीडियो एक्स पर @bangkoklad नाम के अकाउंट से शेयर किया गया

साल 2012 से थप्पड़ मारने की हुई थी शुरूआत

वीडियो के अपलोड होते ही यह रेस्टोरेंट चर्चाओं में आ गया। रेस्टोरेंट में थप्पड़ मारने की शुरुआत साल 2012 से की थी। पहले एक साधारण महिला स्टाफ ने थप्पड़ मारने की शुरुआत की। लेकिन बाद में डिमांड बढ़ने पर थप्पड़ मारने के लिए कई स्टाफ रख लिए गए। इसको लेकर कई बार विवाद भी हुआ लेकिन अब रेस्टोरेंट की तरफ से साफ कर दिया गया है कि रेस्टोरेंट ने अब अपनी फेस स्मोकिंग सेवा बंद कर दी है। लोगों से आग्रह किया है कि वह थप्पड़ खाने की उम्मीद करके ना आएं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 + twenty =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।