सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी

विश्व राजनीती में इन दिनों तेजी के साथ उथल पुथल जारी है। कोई राष्ट्र किसी पर हमला करने को तैयार बैठा है तो कोई युद्ध संघर्ष में व्यस्त है। जो विश्व को नई दशा – दिशा भी प्रदान करेगा। विश्व स्तर पर उथल – पुथल दुनिया के बड़े बदलाव के संकेत है। फ़्रांस ने सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद के लिए गिरफ्तारी वारंट  जारी किया । बशर अल – असद पर आरोप है युद्धग्रस्त राष्ट्र में नागरिकों के विरुद्ध रासायनिक हथियारों के कथित इस्तेमाल किया है।

Screenshot 7 11

मानवता के खिलाफ अपराध के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी

यह पहली बार है कि किसी देश ने किसी अन्य देश के मौजूदा प्रमुख के लिए मानवता के खिलाफ अपराध के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। दो जांच न्यायाधीशों ने मानवता के खिलाफ अपराधों और युद्ध अपराधों में संलिप्तता के लिए मंगलवार को राष्ट्रपति, उनके भाई माहेर अल-असद और दो अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ चार वारंट जारी किए। सीरियाई मानवाधिकार वकील और सीरियन सेंटर फॉर लीगल स्टडीज एंड रिसर्च के संस्थापक अनवर अल-बुन्नी ने बताया कि यह निर्णय अभूतपूर्व था।

प्रतिबंधित रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल

वादी के वकीलों में से एक माइकल चैमास ने बताया कि इंटरपोल के ‘रेड नोटिस’ का पालन होने की उम्मीद है इंटरपोल के अनुसार, रेड नोटिस दुनिया भर में कानून प्रवर्तन से प्रत्यर्पण, आत्मसमर्पण या इसी तरह की कानूनी कार्रवाई के लिए लंबित किसी व्यक्ति का पता लगाने और उसे अस्थायी रूप से गिरफ्तार करने का अनुरोध है। वादी ने बुधवार को एक बयान में कहा, अगस्त में डौमा शहर और पूर्वी घोउटा जिले में नागरिकों के खिलाफ प्रतिबंधित रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल पर मार्च 2021 में सीरियन सेंटर फॉर मीडिया एंड फ्रीडम ऑफ एक्सप्रेशन द ओपन सोसाइटी जस्टिस इनिशिएटिव और सीरियन आर्काइव द्वारा कानूनी मामला सामने लाया गया था। 2013 में हुए हमलों में 1,000 से अधिक लोग मारे गए।”

हथियार का प्रयोग केवल आतंकियों के लिए

सीरियाई सरकार पर दमिश्क के उपनगर घोउटा में जहरीली गैस का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया गया था, जो उस समय विद्रोहियों का गढ़ था और शासन एक साल से अधिक समय से इसे वापस लेने की सख्त कोशिश कर रहा था। इसने बदले में विपक्षी ताकतों पर खुद हमले करने का आरोप लगाया। युद्ध अपराध करने का आरोप लगने के बावजूद, सीरियाई सरकार लंबे समय से कहती रही है कि उसके हमले केवल आतंकवादियों को निशाना बनाते हैं।

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 12 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।