Search
Close this search box.

Imran Khan को आम चुनाव लड़ने के लिए अदालत से नहीं मिली राहत

जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री Imran Khan को बुधवार को अदालत ने अगले महीने होने वाले आम चुनाव में भाग लेने की अनुमति देने से इनकार कर दिया।

khan sahab

Highlights:

  • पाकिस्तान में आठ फरवरी को चुनाव होने हैं
  • खान ने 2018 के चुनावों में अपने गृहनगर की दोनों सीटें जीती थीं
  • तोशाखाना मामले में दोषसिद्धि से निलंबित लेकिन मामले से बरी नहीं
  • वह आठ फरवरी का चुनाव लड़ने के पात्र नहीं

लाहौर उच्च न्यायालय (एलएचसी) के अपीली न्यायाधिकरण ने देश के पंजाब प्रांत में दो नेशनल असेंबली निर्वाचन क्षेत्रों के लिए पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के संस्थापक के नामांकन पत्रों को खारिज करने के निर्वाचन अधिकारियों (आरओ) के फैसले को बरकरार रखा। पाकिस्तान में आठ फरवरी को चुनाव होने हैं। न्यायाधिकरण के न्यायमूर्ति तारिक नदीम और न्यायमूर्ति अबुल अजीज ने क्रमशः लाहौर की एनए-122 और मियांवाली एनए-89 सीटों पर फैसले की घोषणा की। खान ने 2018 के चुनावों में अपने गृहनगर की दोनों सीटें जीती थीं।

अदालत के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया, “दोनों न्यायाधीशों ने निर्वाचन अधिकारी के फैसले के खिलाफ खान की अपील को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि उन्हें (खान) तोशाखाना (राष्ट्रीय खजाने के उपहार) मामले में दोषी ठहराया गया है। उनकी दोषसिद्धि को निलंबित कर दिया गया है लेकिन उन्हें मामले से बरी नहीं किया गया है, ऐसे में वह आठ फरवरी का चुनाव लड़ने के पात्र नहीं हैं।” निर्वाचन अधिकारी ने 30 दिसंबर को खान और पार्टी के कई अन्य दिग्गजों की उम्मीदवारी को खारिज कर दिया था जिसे पीटीआई द्वारा “कमजोर आधार” पर खारिज किया गया कहा गया था।

back again copy

खान (71) ने न्यायाधिकरण के समक्ष दलील दी थी कि तोशाखाना मामले की दोषसिद्धि के संविधान के अनुच्छेद 62 (1एफ) के तहत ‘गैर ईमानदार और सही नहीं’ होने के कारण उनकी अयोग्यता से कोई संबंध नहीं है, इसलिए उनके नामांकन पत्र को खारिज नहीं किया जा सकता है। खान द्वारा न्यायाधिकरण के फैसले को ऊपरी अदालत में चुनौती देने की संभावना है। पीटीआई के अध्यक्ष एडवोकेट गौहर खान ने कहा कि खान और अन्य मुख्य पीटीआई नेताओं को चुनाव लड़ने से रोकना अधिकार का और प्रक्रिया का सबसे खराब दुरुपयोग है। उन्होंने कहा, “हालांकि, चाहे कुछ भी हो हम चुनाव लड़ेंगे।”

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।