BJP की प्रचंड पर बिहार CM नीतीश कुमार को घेरा : विजय सिन्हा (Vijay sinha)

बीते दिनों पांचो राज्य में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए जिसमें परिणाम चार राज्यों के 3 दिसंबर और मिजोरम के 4 दिसंबर को आए। जिसमे 3 राज्यों में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला तो वही तेलंगाना में कांग्रेस ने अपनी सत्ता स्थपित की। तीन राज्य में विजय हासिल करने के बाद बीजेपी खेमे के नेता विपक्ष पर जोरदार तरीके से हमलावर है। बिहार भाजपा के नेता और विधान मंडल नेता विजय कुमार सिन्हा ने कहा हार का ठीकरा सीधे कांग्रेस पर फोड़कर जदयू के लोग नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री बनाने के छिपे एजेंडों को बाहर व्यक्त कर रहे हैं।

केसीआर तो धराशायी अब नीतीश कुमार की बारी

सिन्हा ने दिल्ली भाजपा मुख्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तीन राज्यों में जीत पर कार्यकर्ताओं को सम्बोधन भाषण को ऐतिहासिक करार देते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री के संबोधन से यह स्पष्ट हो गया है कि जनसेवा और राष्ट्र सेवा के बल पर ही जनता का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

जातिवाद की राजनीति को अस्वीकार

उन्होंने कहा कि जनता ने तुष्टिकरण, धार्मिक उन्माद और जातिवाद की राजनीति को अस्वीकार कर दिया है। क्षेत्रीय दल जातिवादी सोच से उबर नहीं पा रहे हैं। राष्ट्रीय दल कांग्रेस भी जातिवाद को महिमा मंडित कर रही है। 21 वीं सदी के भारत और 2023 के मतदाता के लिए विकास ही सबसे महत्वपूर्ण है।उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित चार जातियां, महिला, युवा, किसान और गरीब परिवार, को ध्यान में रखकर ही सभी सरकारों को योजना बनानी पड़ेगी।

भाजपा के पक्ष में जनादेश देश के सामने

केंद्र सरकार और भाजपा शासित राज्य सरकार पूर्व से ही इसी आधार पर काम कर रही है। इस कारण भाजपा के पक्ष में जनादेश देश के सामने है। बिहार की महागठबंधन सरकार भ्रष्टाचार, अपराध, परिवारवाद और जातिवादी राजनीति की पोषक है। इनकी राजनीति इन्हीं अवयवों के इर्द-गिर्द घूमती है। जनहित और जनसेवा से इन्हें कोई लेना-देना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।