ग्रैमी 2024 में फिर बजा भारत का डंका, बैंड शक्ति का ‘दिस मोमेंट’ बना बेस्ट एलबम

ग्रैमी अवॉर्ड 2024 में भारत ने बड़ी सफलता हासिल की है। ‘शक्ति’ के शंकर महादेवन और उनके साथी सदस्यों ने 66वें वार्षिक ग्रैमी अवॉर्ड्स में भारत को गौरवान्वित किया। जॉन मैकलॉघलिन, जाकिर हुसैन, शंकर महादेवन, वी.सेल्वागणेश और गणेश राजगोपालन के सहयोग से बना बैंड ‘शक्ति’ के एल्बम ‘धिस मॉमेंट’ के लिए ग्रैमी अवार्ड से सम्मानित किया गया। इस एल्बम ने ‘बेस्ट ग्लोबल म्यूजिक एल्बम’ कैटगरी में पुरस्कार जीता है। शंकर और उनकी टीम के सदस्य ने ग्रैमी अवॉर्ड 2024 स्वीकार करने के लिए मौजूद थे। वहीं इस इवेंट से शंकर महादेवन का इस वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें शंकर भारत को जीत के लिए धन्यवाद देते नजर आए।

  • ग्रैमी अवॉर्ड 2024 में भारत ने बड़ी सफलता हासिल की
  • ‘शक्ति’ के शंकर महादेवन और उनके साथी सदस्यों ने 66वें वार्षिक ग्रैमी अवॉर्ड्स में भारत को गौरवान्वित किया

शंकर महादेवन और जाकिर हुसैन जीता ग्रैमी अवॉर्ड

भारतीय गायक शंकर महादेवन और मशहूर तबला वादक जाकिर हुसैन को ग्रैमी अवॉर्ड से नवाजा गया है। ‘धिस मॉमेंट’ एलबम में कुल 8 गाने हैं। म्यूजिक इंडस्ट्री के सबसे बड़े अवॉर्ड्स में से एक ग्रैमीज में शंकर महादेवन और जाकिर हुसैन ने कमाल कर दिया है। वहीं ग्रैमी विजेता रिकी केज ने कुछ वीडियो और फोटोज शेयर कर बैंड को बधाई दी। वहीं सोशल मीडिया पर रिकी केज ने शंकर महादेवन की स्पीच भी शेयर की है जो सोशल मीडिया पर छाई हुई है।

l54920240205090719

शंकर महादेवन की ग्रैमी अवॉर्ड 2024 स्पीच

ग्रैमी अवॉर्ड 2024 के इवेंट से शंकर महादेवन का जो वीडियो वायरल हुआ है, उसमें सिंगर अपने टीम के साथ स्टेज पर नजर आ रहे हैं। शंकर महादेवन स्पीच में कहते हैं कि ‘जॉन मैकलॉघलिन इस इनेंट में नहीं हैं, लेकिन हमें उनकी याद आती है जॉन जी’ आगे कहते है कि ‘धन्यवाद… भगवान, परिवार, दोस्तों और भारत, हमें गर्व है कि हम भारतीय हैं… मैं ये  पुरस्कार अपनी पत्नी को समर्पित करना चाहूंगा जिनके लिए मेरे संगीत का प्रत्येक स्वर समर्पित है।’

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Instant Bollywood (@instantbollywood)

भारतीय फ्यूजन बैंड ‘शक्ति’ के बारे में

‘शक्ति’ को उनके लेटेस्ट म्यूजिक एल्बम ‘धिस मोमेंट’ के लिए 66वें ग्रैमी अवार्ड्स में’बेस्ट ग्लोबल म्यूजिक एल्बम’ कैटगरी में विनर घोषित किया गया। बैंड ने 45 साल बाद अपना पहला एल्बम रिलीज किया था। इंग्लिश गिटारिस्ट जॉन मैकलॉलिन ने 1973 में भारतीय वायलिन प्लेयर एल. शंकर, तबला वादक जाकिर हुसैन और टी. एच. ‘विक्कू’ विनायकराम के साथ फ्यूजन बैंड ‘शक्ति’ की शुरुआत की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 + seven =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।