Search
Close this search box.

Karnataka में बाघों से जुड़ा एक बड़ा अभियान हुआ शुरू, ये वजह आई सामने

Karnataka के मैसूरु जिले में अधिकारियों ने सोमवार को एक बाघ को पकड़ने के लिए अभियान शुरू किया। गौरतलब हो, बाघ को हाल ही में चिक्ककन्या, डोड्डाकन्या, बयाताहल्ली और सिंधुवल्ली गांवों के आसपास कई बार देखा गया, जिससे निवासियों में दहशत फैल गई।

Highlights Points

  • कर्नाटक में बाघों को पकड़ने का अभियान शुरू
  • मैसूर जिले में अधिकारियों ने अभियान शुरुआत की
  • 24 नवंबर को एक व्यक्ति की बाघ के हमले में हुई थी मृत्यु

बाघों को देखे जान के बाद वन विभाग ने एक विशेष टीम का गठन किया है और रणनीतिक स्थानों पर कैमरे लगाए हैं। अधिकारियों ने ग्रामीणों से अगले निर्देश तक बाहर न निकलने और ऑपरेशन में सहयोग करने को कहा है।

बीते दिनों 24 नवंबर को, हेडियाला वन रेंज में बल्लुरुहुंडी के पास बाघ ने 55 वर्षीय रत्नम्मा को मार डाला था। लेकिन इस बाघ को पकड़ लिया गया और मैसूर शहर के श्री चामराजेंद्र जूलॉजिकल गार्डन में स्थानांतरित कर दिया गया। बाघ को पकड़ने के लिए, अधिकारियों ने ड्रोन, ट्रैप कैमरों के साथ-साथ तीन पालतू हाथियों का इस्तेमाल किया था और 200 से अधिक कर्मियों को तैनात किया।

Karnataka में गिर सकती है Congress की सरकार ? पूर्व सीएम कुमारस्वामी का बड़ा दावा

 

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + fifteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।