अहंकार छोड़कर अग्निपथ योजना को वापस ले मोदी, नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं : हुड्डा - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

अहंकार छोड़कर अग्निपथ योजना को वापस ले मोदी, नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं : हुड्डा

कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को देश, सेना एवं नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अहंकार छोड़कर इस योजना को वापस लेने की मांग की है।

कांग्रेस नेता और सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को देश, सेना एवं नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अहंकार छोड़कर इस योजना को वापस लेने की मांग की है। हुड्डा ने आज यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि, केंद्र सरकार को इस योजना को तुरंत वापस लेना चाहिए क्योंकि यह योजना देश, फौज एवं नौजवानों के भविष्य के हित में नहीं हैं। उन्होंने मोदी से आग्रह किया कि अहंकार छोड़े और देश के नौजवानों एवं फौज के मन की बात भी सुने।
दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस कभी फौज को कमजोर नहीं होने देगी और इसे कमजोर करने वाले हर कदम का वह विरोध करेगी और देश की सुरक्षा, फौज को कमजोर एवं नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने दिया जायेगा। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि, वह राष्ट्रभक्ति के नाम पर वोट तो बंटोरना चाहती है लेकिन नौजवानों की देशभक्ति उसके समझ में नहीं आती और उसने युवाओं के जज्बे का अपमान किया है। उन्होंने कहा कि देश के नौजवान सेना में संविदा के नाम पर नहीं, वे देश की सेवा के लिए फौजी बनना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि, जब देश चारों ओर से दुश्मनों से घिरा हुआ हैं एक तरफ चीन एवं एक तरफ पाकिस्तान है और इस योजना के आधार पर हमारी फौज की संख्या धीरे धीरे कम होगी।

1656233150 haryana

हुड्डा ने कहा कि इस योजना के तहत भर्ती संविदा पर होगी और उसके एक चौथाई पक्के होंगे, ऐसे में देश के सैन्य बलों में पन्द्रह साल बाद सैनिकों की संख्या 14 लाख से घटकर छह लाख हो जायेगी। उन्होंने कहा कि फौज में जाने वाला व्यक्ति अपने भविष्य को लेकर असुरक्षित महसूस करेगा तो वह देश के लिए कैसे लड़ पायेगा।  हुड्डा ने कहा कि दुनियां में सर्वश्रेष्ठ भारत की फौज है और उस फौज की प्रणाली के साथ व्यापक चर्चा किए बिना छेड़खानी करना उसकी नींव को हिलाने का काम किया जा रहा है। यह नौजवानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। उन्होंने कहा कि देश की फौज पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।
कांग्रेस नेता ने केंद्र सरकार पर बाहर से नीति लाकर देश में थोपने का आरोप लगाते हुए कहा कि पहले अमरीका का उदाहरण देकर नये कृषि कानून किसानों पर थोपने की कोशिश की गई लेकिन आखिरकार उन्हें वापस लेना पड़ मगर करीब सात सौ किसानों के बलिदान के बाद और अब इजरायल का उदाहरण देते हुए अग्निपथ योजना लेकर आये हैं। उन्होंने कहा कि अमरीका और इजरायल की परिस्थतियां और भारत की परिस्थतियां अलग अलग हैं। ऐसे में बाहर की नीतियों को अपने देश में नहीं थोपा जाना चाहिए।
हुडा ने संसद में अपने एक प्रश्न के उत्तर में मिली जानकारी के आधार पर कहा कि देश में केंद्र एवं विभिन्न राज्यों में 62 लाख नौकरियों के पद रिक्त है, इसमें 26 लाख पद अकेले केंद्र के हैं। इनमें दो लाख रिक्त पद तो सेना में हैं। तीन साल से सेना में भर्ती नहीं हो रही। उन्होंने कहा कि, पहले तो रक्षा मंत्री को इस मामले में माफी मांगनी चाहिए। देश रिकॉर्ड बेरोजगारी का सामना कर रहा है और सरकार ने नौजवानों के साथ बड़ मजाक किया है। अब सेना की संख्या घटेगी तो देश में बेरोजगारी और बढ़गी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + sixteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।