सचिन पायलट ने कहा- ‘विपक्ष के नेताओं पर झूंठे मुकदमें दर्ज कर जनता की आवाज को दबाना लोकतंत्र के लिए हानिकारक’

सचिन पायलट राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री हैं। उन्होंने सरकार पर लोगों की आवाज दबाने का आरोप लगाया है। वह बात कर रहे हैं कि

सचिन पायलट राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री हैं। उन्होंने सरकार पर लोगों की आवाज दबाने का आरोप लगाया है। वह बात कर रहे हैं कि कैसे सरकार ने विपक्षी नेताओं के खिलाफ झूठे मामले दर्ज किए हैं कि वह उनसे वैचारिक एवं राजनैतिक मतभेद रखने वाले लोगों को डरा-धमकाकर, जनता की आवाज को दबाकर मनमाने तरीके से सत्ता में बना रहना चाहती है जो स्वस्थ लोकतंत्र के लिए हानिकारक है।पायलट ने टोंक जिले के अपने दौरे को दौरान आज यह बात कही। उन्होंने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने पिछले आठ-नौ सालों में जनता की आवाज को दबाने का काम किया है। सरकारी जांच एजेन्सियों केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) प्रवर्तन निदेशालय, इनकम टैक्स के माध्यम से विपक्ष के नेताओं पर झूंठे मुकदमें दर्ज कर उनको डराने का प्रयास किया जा रहा है जिससे वे जनता के विकास के मुद्दों को पुरजोर तरीके से ना उठा सके।
1678542277 untitled 2 copy.jpg8564120
सरकार ने महंगाई को बेतहाशा बढ़या है
उन्होंने कहा कि दिल्ली में बैठी भाजपा सरकार का एक ही काम है कि उनसे वैचारिक एवं राजनैतिक मतभेद रखने वाले लोगों को डराया-धमकाया जाये, जनता को आवाज को दबाकर मनमाने तरीके से सत्ता में बना रहा जाये। उन्होंने कहा कि केन्द, सरकार ने महंगाई को बेतहाशा बढ़या है, युवा विरोधी अग्निवीर योजना को लागू किया, किसान विरोधी तीन काले कानून थोपने की कोशिश की और जब विपक्ष के नेता जनता के इन मुद्दों पर बोलते हैं तो सरकारी जांच एजेन्सियों के माध्यम से उनकी आवाज को दबाने का काम किया जाता है। यह व्यवस्था स्वस्थ लोकतंत्र के लिए हानिकारक है।
विकास के मुद्दों पर चर्चा करनी होगी
पायलट ने कहा कि लोकतंत्र में नेताओं और जनता के बीच संवाद स्थापित होते रहना चाहिए। यदि किन्हीं मुद्दों पर असहमति हो तो भी लोगों की बात को सुनकर उसका हल निकालना चाहिए। उन्होंने कहा ‘ चुनावी साल के नये-नये नेता, नये-नये राजनैतिक दल आपके बीच आयेंगे। आपको धर्म, जाति, भाषा, लिंग के नाम पर बहकाने की कोशिश करेंगे। परन्तु आपको उनके बहकावे में ना आकर विकास के मुद्दों पर चर्चा करनी होगी। जिन लोगों ने आपके सुख-दु:ख में, हर परिस्थिति में आपका साथ दिया, क्षेत्र में विकास किया उनको राजनैतिक ताकत देकर उनके हाथों को मजबूत करना होगा।’
संसाधनों की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी
पायलट ने कहा ‘ हमने गत चार साल में बिना भेदभाव, पक्षपात् के क्षेत्र में अनेकों विकास कार्य किये है और जो कुछ कार्य रह गये है उन्हें भी शीघ, पूरा करवाया जायेगा। जनता के विकास कार्यों के लिए संसाधनों की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में सड़क, पानी, बिजली के कार्य होने चाहिए परन्तु मेरा मानना है कि हमारी पहली प्राथमिकता शिक्षा, चिकित्सा क्षेत्र में विकास की होनी चाहिए क्योंकि हमारे बच्चे-बच्चियां जब स्वस्थ्य रहकर, पढ़-लिखकर उच्च पदों पर बैठेंगे तो क्षेत्र का विकास स्वत: ही होगा।’
विभिन्न कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया
उन्होंने अपने दौरे के दौरान टोंक की ग्रामपंचायत पालड़ के ग्राम नवाबपुरा, ग्रामपंचायत घांस के ग्राम खजूरिया तथा ग्रामपंचायत बमोर में विभिन्न कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इससे पहले पायलट ने टोंक सर्किट हाउस में जिला प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक लेकर प्रगतिरत विकास कार्यों की रिपोर्ट ली। उन्होंने टोंक खेल स्टेडियम पहुंचकर वहां चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया एवं आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + nineteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।