Search
Close this search box.

कुदरत का अजीब कहर, दो भाईयों की एक जैसी मौत,’एक ही चिता पर हुआ 2 जुड़वा भाइयों का अंतिम संस्कार’

राजस्थान में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे कुदरत का अजीब कहर कहें या फिर एक दर्दनाक इत्तेफाक कोई समझ नहीं पा रहा है

राजस्थान में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे कुदरत का अजीब कहर कहें या फिर एक दर्दनाक इत्तेफाक कोई समझ नहीं पा रहा है। जानकारी के मुताबिक राज्य के बाड़मेर में दो जुड़वा भाइयों के मौत का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर हर कोई अवाक रह गया। 
दरअसल 26 वर्षीय जुड़वा भाइयों की मौत एक ही तरीके से हुई है जबकि दोनों घटना के समय एक-दूसरे से करीब 900 किलोमीटर दूरी पर अलग-अलग राज्य में मौजूद थे। बताया जा रहा है कि एक भाई छत से फिसलकर गिर गया और छोटे भाई की मौत के बाद घर पहुंचे बड़े भाई की पानी की टंकी में गिरने से मौत हो गई। घटना के बाद मृतकों के परिवार और गांव में मातम पसरा हुआ है। वहीं शुक्रवार को जब घर से दोनों भाइयों की अर्थी उठी तो हर किसी का कलेजा फट गया। बता दें कि दोनों भाइयों का गांव में एक ही चिता पर अंतिम संस्कार किया गया। यह पूरा मामला बाड़मेर के सिणधरी कस्बे के होडू गांव का है।
छोटे भाई की मौत पर बड़े ने तोड़ा दम
जानकारी के मुताबिक होड़ू गांव के सारणों का तला इलाके के रहने वाले 26 वर्षीय सुमेर सिंह गुजरात के सूरत में काम करता था जहां बीते मंगलवार को पैर फिसलने से वह छत से नीचे गिर गया था और इलाज के दौरान सुमेर सिंह ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं घटना के बाद उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए सारणो गांव लाया गया जहां छोटे भाई की मौत पर बड़े भाई सोहन को भी गांव बुलाया गया।
वहीं बुधवार सुबह सोहन सिंह जब घर से कुछ दूरी पर स्थित टंकी से पानी की बाल्टी भर रहा था तो वह अचानक उसमें फिसलकर गिर गया और उसकी भी वहीं मौत हो गई। बता दें कि 28 साल का सोहन सिंह जयपुर में सैकंड ग्रेड परीक्षा की तैयारी कर रहा था जहां पिता की तबीयत खराब होने का बहाना देकर सोहन सिंह को गांव बुलाया गया था।
शव तैरता हुआ मिला
बताया जा रहा है कि बुधवार को जब सोहन काफी देर बाद घर नहीं लौटा तो परिवार के लोग टंकी के पास गए तो वहां उसका शव तैरता हुआ मिला। इसके बाद परिजनों ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी और शव को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम किया गया। गांव के लोगों का कहना है कि दोनों भाइयों का हर किसी से अच्छा मेल मिलाप था और बड़े भाई सोहन की पढ़ाई का खर्च भी छोटा भाई सुमेर उठा रहा था।
एक साथ उठी दोनों की अर्थियां
वहीं दो भाइयों की मौत के बाद जब घर के आंगन से दोनो की एक साथ अर्थियां उठी तो हर तरफ चीख पुकार मच गई और परिवार के लोगों का रो रोकर बुरा हाल हो गया। दोनों को अंतिम संस्कार के लिए गांव की शमशान भूमि ले जाया गया जहां परिवार के लोगों ने ही दोनों को मुखाग्नि देकर अंतिम विदाई दी। 
दूसरे भाई का शव पानी की टंकी में पड़ा मिला
इधर घटना के बाद सिणधरी थानाधिकारी सुरेंद्रसिंह का कहना है कि एक भाई की मौत सूरत में छत से गिरने से हो गई जिसके बाद दूसरे भाई का शव पानी की टंकी में पड़ा मिला। हालांकि परिजनों का कहना है कि पैर फिसलने से टंकी में गिरने से सोहन की मौत हुई है लेकिन घटना को लेकर आत्महत्या की भी आशंका जताई जा रही है। फिलहाल पुलिस हर एंगल से जांच में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।