लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

सुखजिंदर सिंह रंधावा का बड़ा बयान, बोले- राजस्थान के घटनाक्रम पर कड़ी नजर, खड़गे को सौंपेंगे रिपोर्ट

कांग्रेस नेता सचिन पायलट की अजमेर से जयपुर की जनसंघर्ष पदयात्रा के दौरान राजस्थान के पार्टी प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा कि वह राज्य के घटनाक्रम पर करीबी नजर रख रहे हैं, और कर्नाटक से लौटने के बाद पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को एक रिपोर्ट सौंपेंगे।

कांग्रेस नेता सचिन पायलट की अजमेर से जयपुर की जनसंघर्ष पदयात्रा के दौरान राजस्थान के पार्टी प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा कि वह राज्य के घटनाक्रम पर करीबी नजर रख रहे हैं, और कर्नाटक से लौटने के बाद पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को एक रिपोर्ट सौंपेंगे। रंधावा ने शुक्रवार को राजस्थान यूनिट के प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा, राजस्थान काजी मुहम्मद निजामुद्दीन, अमृता धवन, वीरेंद्र राठौर और पार्टी के सह-प्रभारी के साथ बैठक की। यह बैठक करीब दो घंटे चली। बैठक के बाद रंधावा ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मैं राजस्थान में पूरे घटनाक्रम पर करीब से नजर रख रहा हूं और खड़गे जी के कर्नाटक से लौटने के बाद मैं अपनी रिपोर्ट उनके साथ साझा करूंगा।
जब उनसे पूछा गया कि वह सचिन पायलट पर कोई कार्रवाई करेंगे। इस पर उन्होंने कहा कि मुझे जो भी कार्रवाई करनी है, मैं उसे नहीं बताऊंगा। मैं सब कुछ देख रहा हूं। उन्होंने अजमेर से जयपुर तक पायलट के पैदल मार्च को भी व्यक्तिगत करार दिया है। राष्ट्रीय राजधानी में यहां पार्टी के वार रूम में नेताओं की एक महत्वपूर्ण बैठक के बाद उनकी यह टिप्पणी आई है। एक सूत्र ने बताया कि बैठक के दौरान नेताओं ने पायलट की जन संघर्ष यात्रा से उभरने वाली चुनौतियों पर भी चर्चा की। सरकारी भर्ती परीक्षाओं में भ्रष्टाचार और पेपर लीक के मामलों को उठाने के लिए पायलट ने गुरुवार को अजमेर से जयपुर तक 125 किलोमीटर की पदयात्रा शुरू की।
पांच दिवसीय यात्रा को रेगिस्तानी राज्य में महत्वपूर्ण विधानसभा चुनावों से कुछ महीने पहले पायलट द्वारा पार्टी नेतृत्व पर दबाव बनाने की रणनीति के रूप में देखा जा रहा है। मंगलवार को, जिस दिन पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी ने राजस्थान का दौरा किया, पायलट ने गहलोत को यह कहते हुए फटकार लगाई कि उनकी नेता वसुंधरा राजे हैं, न कि सोनिया गांधी। जयपुर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पायलट ने कहा था, यह तथ्य मुख्यमंत्री के धौलपुर में परसों दिए गए भाषण से स्पष्ट हो गया है। पायलट ने गहलोत के उस बयान पर सवाल उठाया, जिसमें भाजपा नेताओं की तारीफ की गई थी, लेकिन उन्होंने पार्टी के अपने ही सांसदों और विधायकों की छवि खराब की।
रविवार को गहलोत ने कहा कि पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और भाजपा के दो नेताओं कैलाश मेघवाल और शोभरानी कुशवाहा ने उनकी सरकार को बचाने में मदद की। गहलोत के बयान पर पायलट ने कहा, गहलोत बताएं कि उनके बयान के दो चेहरे क्यों हैं। अगर वो कहते हैं कि भाजपा सरकार गिराने की कोशिश कर रही थी और दूसरी तरफ वो कहते हैं कि राज्य अपनी सरकार बचाने की कोशिश कर रही थीं, तो फिर वह क्या कहना चाहते हैं। पायलट और गहलोत राज्य कांग्रेस इकाई और सरकार में सत्ता के लिए कड़वी लड़ाई में लगे हुए हैं। पायलट लगातार भाजपा शासन में भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने का मुद्दा उठा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।