PKL 23 : बंगाल वॉरियर्स की प्लेऑफ की उम्मीद कायम, दिल्ली को 45-38 से हराया

PKL 23 के 100वें मुकाबले में दबंग दिल्ली का सामना बंगाल वॉरियर्स से हुआ। इस रोचक मैच में कप्तान मनिंदर सिंह के 11 अंक और नितिन कुमार के 13 अंक ने बंगाल वॉरियर्स को असाधारण सुपर 10 के दम पर बंगाल वारियर्स ने दबंग दिल्ली के.सी. पर 45-38 की शानदार जीत दर्ज की।

HIGHLIGHTS

  • PKL 23 में बंगाल वारियर्स ने दबंग दिल्ली के.सी. को 45-38 से हराया।
  • मनिंदर सिंह ने 11 अंक, नितिन कुमार ने 13 अंक हासिल किए।
  • दबंग दिल्ली हार के बावजूद तीसरे पायदान पर बरक़रार
  • बंगाल वारियर्स सातवें पायदान पर पहुंचा dabangdelhivsbengalwarriors 1706892239

पहले हाफ दबंग दिल्ली का पलड़ा रहा भारी

शुक्रवार को दिल्ली के त्यागराज इंडोर स्टेडियम में घरेलू टीम की मजबूत शुरुआत ने उन्हें पहले हाफ में बढ़त दिला दी, लेकिन आशु मलिक के सुपर 10 के बावजूद बंगाल वॉरियर्स के हरफनमौला प्रदर्शन के कारण दिल्ली पिछड़ गया। बंगाल वॉरियर्स के स्टार रेडर मनिंदर सिंह ने अपनी टीम को शानदार जीत दिलाई। इस जीत में बंगाल के डिफेंस ने भी महत्बंवपूर्गाण भुमिका निभाई लेकिन कप्तान आशु मलिक ने दबंग दिल्ली के.सी. के लिए महत्वपूर्ण अंक चुरा लिए। दबंग दिल्ली के.सी. खेल में केवल आठ मिनट में बंगाल वॉरियर्स को ऑल-आउट करके उनकी शुरुआती शुरुआत को मजबूत किया। दो अंकों की भारी कमी के साथ बंगाल वॉरियर्स ने फिर से शानदार शुरुआत की। हालांकि, आशु ने स्कोर को स्थिर नहीं होने दिया और अपने विरोधियों को लगातार बैकफुट पर धकेल दिया। दबंग दिल्ली के.सी. कप्तान ने अपना शानदार फॉर्म जारी रखा और उनकी टीम ने पहले हाफ में बंगाल वॉरियर्स को दूसरी बार ऑल-आउट कर दिया।

दूसरे हाफ में बंगाल ने वापसी करते हुए दर्ज की शानदार जीत

इसके बाद बंगाल वॉरियर्स ने दूसरे हाफ में शानदार प्रदर्शन किया और पहले हाफ के अंतर को कम करने के लिए जी जान से कोशिश करते हुए नज़र आए। आशु मलिक द्वारा अपना सुपर 10 पूरा करने के बाद दूसरे 20 मिनट में केवल तीन मिनट में उन्होंने अपना पहला ऑल-आउट अर्जित किया। इससे वे घरेलू टीम के करीब पहुंच गए, जिसके बाद अक्षय कुमार ने प्रतिद्वंद्वी कप्तान का सामना किया और अपनी टीम को बढ़त दिलाई।मनिंदर सिंह ने भी आगे बढ़कर अपनी टीम का नेतृत्व किया और उनकी मेहनत का फल एक और ऑल-आउट के रूप में सामने आया, जिससे उनकी टीम को सहारा मिला। उन्हें युवा नितिन कुमार का भरपूर समर्थन मिला, जो अपने कप्तान से पहले सुपर 10 तक पहुंचे। दबंग दिल्ली के.सी. के लिए दो और ऑल-आउट हुए, और बंगाल वॉरियर्स ने बड़ी जीत हासिल की। दबंग दिल्ली के.सी. के रेडर आशु मलिक ने सबसे ज्यादा 17 रेड अंक हासिल किए। योगेश 3 टैकल पॉइंट के साथ सर्वश्रेष्ठ डिफेंडर रहे। इस जीत के साथ बंगाल वारियर्स की टीम 10वें से सातवें पायदान पर पहुँच गई है टीम के 17 मैच के बाद यह सातवीं जीत है और टीम 44 अंक के साथ प्लेऑफ की रेस में बनी हुई है वहीं दूसरी तरफ इस हार के बावजूद दिल्ली को एक अंक मिला, और यह टीम तीसरे पायदान पर ही बरक़रार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight − three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।