अब iPhone की मैन्युफैक्चरिंग करेगा टाटा ग्रुप

iPhone की मैन्युफैक्चरिंग को लेकर बहुत दिनों से चर्चाओं में बनि टाटा कंपनी ने पुष्टि कर दी है की अब iPhone की मैन्युफैक्चरिंग वो ही करने वाले है। यह जानकारी केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं प्रौद्योगिकी मंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने दी है. उन्होंने बताया की अब टाटा भारत में आईफोन का निर्माण करेगा । यह जानकारी केंद्रीय मंत्री ने सोशल मीडिया X पर शेयर करते हुए कहा की पहले दुनिया भर में बिकने वाले ज्यादातर आईफोन चीन में निर्मित होते थे। अब धीरे-धीरे भारत में भी iPhone का निर्माण शुरू हो गया है। हालांकि, भारत में पुराने iPhone मॉडल्स को कुछ समय पहले से ही असेंबल किया जा रहा था, जो लोगो को काफी पसंद भी आया।
iPhone

Wistron Corp की फैक्ट्री का करेगा अधिग्रहण 

आपको बता दे टाटा ग्रुप स्थानीय और वैश्विक बाजार दोनों के लिए ही iPhone का निर्माण शुरू करेगी। टाटा ने iPhone के निर्माण के लिए टाइवान की कंपनी Wistron Corp का अधिग्रहण किया है। जिसकी जानकारी खुद Wistron Corp ने प्रेस रिलीज कर के बताया है, कंपनी ने कहा कि उसने आज निदेशक मंडल की बैठक की और अपनी सहयोगी कंपनियों को मंजूरी दे दी है।  इसके तहत एसएमएस इन्फोकॉम प्राइवेट लिमिटेड और विस्ट्रॉन हॉन्ग कॉन्ग लिमिटेड को टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ शेयर खरीद समझौते पर हस्ताक्षर करने की अनुमति दी गई है। टाटा को दोनों कंपनियों के विस्ट्रॉन इंफोकॉम मैन्युफैक्चरिंग (इंडिया) के 100 फीसदी शेयर मिलेंगे। इस डील के तहत अब टाटा ग्रुप Wistron Corp की कर्नाटक फैक्ट्री का अधिग्रहण करेगा।
tata12
यह पहला मौका है जब apple की मैन्युफैक्चरिंग कोई लोकल कंपनी करेगी , वैसे तो इस साल की लेटेस्ट फोन iPhone 15 की मैन्युफैक्चरिंग भारत में शुरू होगई है, लेकिन अभी भी iPhone 15 Pro सीरीज की मैन्युफैक्चरिंग चीन में ही होती है. भारत में अभी केवल 7 फीसदी ही ऐपल प्रोडक्ट्स की मैन्युफैक्चरिंग होती है, आज भी चीन ऐपल का सबसे बड़ा सप्लायर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × four =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।