ट्रूडो के बयान पर इजरायली PM नेतन्याहू का फूटा गुस्सा

इजरायल-हमास जंग का आज 39वां दिन है और हालात बद से बदतर होते जा रहे है। इस बीच कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने इजरायल द्वारा गाजा पट्टी पर किए जा रहे जवाबी हमले पर ऐसा बयान दे दिया है, जिससे इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का गुस्सा फूट पड़ा है। दरअसल, 7 अक्टूबर को हमास द्वारा इजरायल पर अचानक किए गए हमले के बाद से इजरायली सेना गाजा में हमास के ठिकानों पर लगातार हमला कर रही है। गाजा में स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, युद्ध शुरू होने के बाद से 11,000 से अधिक फलिस्तीनी मारे गए हैं, जिनमें से दो-तिहाई महिलाएं और नाबालिग शामिल हैं।

Screenshot 12 8

‘मैं इजरायल सरकार से आग्रह करता हूं’
इसी को देखते हुए कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो ने मंगलवार को इजरायली हमलों की तीखी आलोचना की और कहा, गाजा पट्टी में महिलाओं, बच्चों और शिशुओं की हत्या बंद होनी चाहिए।’ ट्रूडो ने कहा कि इजरायल को हमास के खिलाफ अपनी रक्षा करने का पूरा अधिकार है, लेकिन प्रभावित क्षेत्र में बढ़ती मौतों की संख्या एक चिंता का विषय है। मैं इजरायल सरकार से अधिकतम संयम बरतने का आग्रह करता हूं।

दुनिया सबकुछ देख रही है’
ब्रिटिश कोलंबिया के पश्चिमी प्रांत में एक संवाददाता सम्मेलन में ट्रूडो ने कहा कि हम डॉक्टरों, परिवार के सदस्यों, जीवित बचे लोगों, उन बच्चों की गवाही सुन रहे हैं जिन्होंने अपने माता-पिता को खो दिया है। दुनिया महिलाओं, बच्चों और शिशुओं की हत्या को टीवी पर, सोशल मीडिया पर सबकुछ देख रही है। इसे रोकना होगा।’ ट्रूडो ने यह भी कहा कि हमास को फलिस्तीनियों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल करना बंद करना होगा और अपने सभी बंधकों को रिहा करना चाहिए।’

ट्रूडो के इस बयान पर बेंजामिन नेतन्याहू का फूटा गुस्सा
ट्रूडो की इस आलोचना पर इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कनाडाई पीएम ट्रूडो को आड़े हाथों लिया और कहा, ‘ जानबूझकर नागरिकों (फलिस्तीनियों) को निशाना इजरायल नहीं बल्कि हमास बना रहा है। ये हमास है जिसने नरसंहार के बाद से यहूदियों पर किए गए सबसे भयानक हमले में नागरिकों के सिर काटे, जलाए और नरसंहार किया। एक तरफ जहां इजरायल नागरिकों (फलिस्तीनियों) को नुकसान से दूर रखने के लिए सब कुछ कर रहा है, तो वहीं हमास उन्हें ही ढाल बनाकर नुकसान पहुंचा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + fourteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।