लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

डिप्टी सीएम Tejashwi Yadav और मुख्यमंत्री Nitish Kumar क्यों नहीं दिखते मंच पर एक साथ, BJP ने पूछे सवाल

पिछले कई दिनों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव किसी कार्यक्रम में साथ नजर नहीं आ रहे। इसी को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने अब सवाल पूछा है।

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने कहा कि पिछले 10 दिनों से बिहार में कुछ अनहोनी घटनाएं घट रही हैं। मुख्यमंत्री का सरकारी कार्यक्रमों में चुप्पी साध लेना और तेजस्वी यादव का मुख्यमंत्री के साथ कार्यक्रमों का बहिष्कार करना। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव पिछले एक सप्ताह से मुख्यमंत्री के साथ मंच साझा करने से क्यों कतरा रहे हैं। बहु प्रचारित इन्वेस्टर्स मीट के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के साथ मुख्य अतिथि थे। उद्योग विभाग राजद कोटे के मंत्री समीर महासेठ के पास है, इसके बावजूद तेजस्वी उस समिट में नहीं गए। इस सम्मलेन के अगले दिन एक आईटी कंपनी का छोटे से कार्यालय उद्घाटन में अकेले अवश्य गए।

भाजपा नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री इन्वेस्टर्स मीट में निवेशकों से बिना मिले, बिना भाषण दिए चले गए। पुनौरा धाम सीतामढ़ी में जानकी मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम में भी बिना भाषण दिए हेलीकॉप्टर में बैठकर उड़ गए। नवादा में गंगाजल कार्यक्रम में भी मुख्यमंत्री ने भाषण नहीं किया। तेजस्वी यादव पर्यटन के लिए जापान सपरिवार जा सकते हैं लेकिन पुनौरा के अपने विभागीय कार्यक्रम में नहीं जाते हैं। पीएमसीएच के और डबल डेकर सड़क के निरीक्षण में मुख्यमंत्री के साथ नहीं दिखे। नवादा के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे, परंतु वहां भी नदारद थे। उन्होंने कहा कि बिहार की जनता को जानने का अधिकार है कि राज्य का उपमुख्यमंत्री मुख्यमंत्री के साथ मंच साझा क्यों नहीं कर रहे हैं? कहीं डर तो नहीं की मुख्यमंत्री बोलते-बोलते जंगलराज की याद कराने लगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + nine =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।