लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

एल्विश यादव ने पूछताछ में लिया इस सिंगर का नाम, नोएडा पुलिस कर सकती बड़ी कार्रवाई

‘बिग बॉस ओटीटी 2’ के विजेता एल्विश यादव हाल ही में गलत कारणों के चलते सुर्खियों में हैं। उन्हें नोएडा पुलिस ने एक रेव पार्टी में सांप का जहर मुहैया कराने के आरोप में गिरफ्तार किया था। अब खबर सामने आई है कि इसी मामले में नोएडा पुलिस जल्द ही गायक फाजिलपुरिया को नोटिस भेज सकती है। पूछताछ में एल्विश ने फाजिलपुरिया की पार्टी का जिक्र किया है। एल्विश ने यह भी कबूल किया कि उसने फाजिलपुरिया की पार्टी में सांप का वीडियो बनाया था। एल्विश और फाजिलपुरिया का सांप के साथ वीडियो फिलहाल नोएडा पुलिस के रडार पर है। पुलिस फाजिलपुरिया और सपेरे राहुल के कनेक्शन की भी जांच कर रही है।

  • ‘बिग बॉस ओटीटी 2’ के विजेता एल्विश यादव हाल ही में गलत कारणों के चलते सुर्खियों में हैं
  • एल्विश और फाजिलपुरिया का सांप के साथ वीडियो फिलहाल नोएडा पुलिस के रडार पर है

जानें पूरा मामला

ये भी बताया जा रहा है कि एल्विश ने यह भी स्वीकार किया कि वह राहुल सहित सभी गिरफ्तार आरोपियों से अलग-अलग रेव पार्टियों में मिला था और उनसे परिचित था। एल्विस यादव पर नोएडा पुलिस ने 29 एनडीपीएस एक्ट लगाया है। 29 एनडीपीएस एक्ट तब लगाया जाता है जब कोई नशे से जुड़ी साजिश जैसे नशे की खरीद-फरोख्त में शामिल होता है। इस अधिनियम के तहत दर्ज आरोपियों को आसानी से जमानत भी नहीं मिलती है। पिछले साल पीपल फॉर एनिमल्स (पीएफए) संगठन की शिकायत के आधार पर नोएडा पुलिस ने सेक्टर 51 स्थित एक बैंक्वेट हॉल पर छापा मारा था और पांच लोगों को गिरफ्तार किया था।

navbharat times 105092282

पीएफए का दावा

पीएफए ने अपनी एफआईआर में एल्विश यादव का नाम भी लिया था और उन पर रेव पार्टियों का आयोजन करने का आरोप लगाया था। दावा किया गया था कि वे विदेशियों को आमंत्रित करते हैं और जहरीले सांपों की व्यवस्था करते हैं। बता दें कि छापेमारी के दौरान नौ जहरीले सांप बरामद किए गए। पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत सांप की विष ग्रंथियां निकालना दंडनीय अपराध है और दोषी को सात साल की जेल हो सकती है। एल्विश हाल ही में गुरुग्राम में सागर ठाकुर (मैक्सटर्न) नाम के एक यूट्यूबर की पिटाई के लिए भी चर्चा में थे।

faizzzzz

14 दिन की न्यायिक हिरासत में एल्विश

बता दें, कोर्ट ने एल्विश को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। जेल अधिकारियों की ओर से खबर आई थी कि एल्विश यादव की जेल में पहली रात बेचैनी और मायूसी में गुजरी। वहीं नोएडा पुलिस सूत्रों के मुताबिक, एल्विश यादव ने कबूल किया है कि वो पार्टी में सांप और सांपों का जहर मंगवाता था। एल्विश यादव ने पूछताछ में कबूला है कि वो गिरफ्तार आरोपियों राहुल समेत सभी से अलग-अलग रेव पार्टियों में मिल चुके थे और जान पहचान भी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।