World Pneumonia Day 2023: निमोनिया से रहता है जान का खतरा, जानिए इसके लक्षण

सर्दियों के मौसम की शुरुआत हो चुकी है ऐसे में ठंड लगने की वजह से लोगों को खासी, सांस ने आने जैसी समस्याएं होने लगती हैं लेकिन ठंड से होने वाली बिमारियों को लेकर आपको सावधान रहना होगा क्योंकि यदि ये समस्याएं आपको लंबे समय तक रहती हैं तो आप निमोनिया जैसी गंभीर बीमारी का शिकार हो सकते हैं यदि इस बीमारी का समय पर इलाज न किया जाए तो इससे पीड़ित व्यक्ति को जान जाने का खतरा भी रहता है। निमोनिया फेफड़ों में पैदा होता है जो खांसने, छींकने, छूने या जहरीली हवा में सांस लेने से फैलने लगता है। निमोनिया का खतरा छोटे बच्चों और बड़े बुजुर्गों में फैलने का ज्यादा रहता है। प्रत्येक वर्ष 12 नवंबर के दिन को निमोनिया के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है। तो आइए निमोनिया के बारे में जागरूकता के लिए इसके बारे में ज्यादा जानते हैं।

Screenshot 77

निमोनिया क्या है?

निमोनिया की समस्या तब होती है जब फेफड़ों पर सूजन आ जाती है। सूजन के बाद फेफड़ों में मवाद पड़ जाती है जिसके बाद मवाद के साथ खांसी, बुखार भी होने लगते हैं। निमोनिया की बीमारी गंदे बैक्टीरिया के अंदर जाने से अक्सर होती है। बच्चों और बूढ़ों को ठंड के समय में बचकर रहना चाहिए क्योंकि निमोनिया की समस्या इसी मौसम में सबसे अधिक होती है। जिन लोगों में अस्थमा, क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) या हार्ट डिजीज जैसी समस्याएं हैं उन्हें भी निमोनिया होने का खतरा रहता है।

निमोनिया के लक्षण

निमोनिया में लगातार सीने में दर्द रहने लगता है, लंबे समय तक बुखार रहता है, कफ वाली खांसी होने लगती है, शरीर में थकावट रहने लगती है, कपकपी छूटती है और पसीना भी आने लगता है। इसके अलावा दस्त होना और उल्टी की समस्या होना भी निमोनिया के लक्षण हैं। ये सभी लक्षण महसूस होने के बाद डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए। एक्स-रे कराने पर इस समस्या का पता लगाया जा सकता है कुछ केसेस में एक्स-रे से पता नहीं चलता है इसलिए स्कैन करने की जरुरत होती है।

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई गई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें. Punjabkesari.com इसकी पुष्टि नहीं करता है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।