शोपिया में सेना के जवानों को हाथ लगी बड़ी सफलता, लश्कर के तीन आतंकी ढ़ेर

जम्मू कश्मीर के शोपिया इलाके में भारतीय सेना के जवानों ने बड़ी सफलता हासिल की, मुंझा मार्ग के इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में लश्कर के तीन आतंकी मारे गए।

जम्मू कश्मीर के शोपिया इलाके में भारतीय सेना के जवानों ने बड़ी सफलता हासिल की, मुंझा मार्ग के इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में लश्कर के तीन आतंकी मारे गए।
15 अक्टूबर को यानी दो महीने पहले, जम्मू कश्मीर के शोपिया में आतंकियों ने कश्मीरी ‘पंडित पूरन कृष्ण भट’ की गोली मर कर हत्या की थी, जिसका बदला सुरक्षाबलों ने मंगलवार यानी आज ले लिया। सुरक्षाबलों और आतंकियों के बिच मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों में से एक ‘पंडित पूरन कृष्ण भट’ का हत्यारा निकला और एक अन्य अनंतनाग में नागरिक की हत्या में इच्छित निकला।

कश्मीर जोन के पुलिस ने आज (मंगलवार ) को Tweet कर जानकारी दी है की, जम्मू कश्मीर के शोपिया जिले के मुंझा मार्ग के इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकी मार गिराए।

कश्मीर अतिरिक्त पुलिस (ADGP) का बयान
कश्मीर के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADGP) ने बताया की शोपिया में मारे गए तीनों आतंकियों में से 2 की पहचान शोपिया के ‘लतीफ़ लोन’ और अनंतनाग के ‘उमर नज़ीर’ के रूप में हुई है। इसमें से लतीफ़ कश्मीरी ‘पंडित पूरन कृष्ण भट’ की हत्या में शामिल था। दूसरा ‘उमर नज़ीर’ नेपाल के ‘बहादुर थापा’ की हत्या में शामिल था। मारे गए आतंकियों के पास से एक AK-47 राइफल तथा अन्य 2 राइफल बरामद किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − thirteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।