CM गहलोत और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत के बीच जंग तेज, संजीवनी घोटाले में शामिल सभी लोगों को जेल भेजेगी सरकार!

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ उनके परिवार पर संजीवनी घोटाले में कथित तौर पर आरोप लगाने के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करने के कुछ दिनों बाद, राजस्थान के मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट युद्ध शुरू कर दिया है ।

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ उनके परिवार पर संजीवनी घोटाले में कथित तौर पर आरोप लगाने के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करने के कुछ दिनों बाद, राजस्थान के मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट युद्ध शुरू कर दिया है और विभिन्न घोटाले के पीड़ितों के वीडियो पोस्ट किए हैं, जो आपबीती साझा करते नजर आ रहे हैं।
सीएम ने पीड़ितों के वीडियो ट्वीट करते हुए कहा, संजीवनी घोटाले का पूरा तानाबाना पीड़ित बता रहे हैं, सरकार इस घोटाले में शामिल सभी लोगों को जेल भेजेगी। गहलोत ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘लाभ और राहत के नाम पर लोगों की मजबूरियों का फायदा उठाकर संजीवनी में खेला जाने वाला फर्जीवाड़ा परत दर परत सामने आ रहा है।
अन्नदाताओं को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध
घोटाले ने बेईमानी का ऐसा तंत्र विकसित कर लिया है कि न केवल निवेशक, बल्कि एजेंट भी मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। राज्य सरकार जनता के पैसे की लूट के पूरे सिस्टम के मास्टरमाइंड और हर सहयोगी को उनके सही अंजाम तक ले जाएगी। न्याय की इस लड़ाई में उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हर कदम पर पीड़ितों के साथ है। गहलोत ने लिखा, हमारे किसान भाई सर्दी और गर्मी में दिन-रात मेहनत करके पैसा कमाते हैं। अपनी जरूरतों के लिए उन्होंने अपनी गाढ़ी कमाई को संजीवनी में लगाया, लेकिन धोखाधड़ी के कारण आज घर-घर जाने को मजबूर हैं। हम लोग इन अन्नदाताओं को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।
अपने व्यवहार के आधार पर दूसरे लोगों से करवाते थे निवेश 
गहलोत ने संजीवनी के एजेंटों का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, यह हर उस एजेंट की पीड़ा है, जो संजीवनी की जिम्मेदारियों को मानते थे और अपने व्यवहार के आधार पर दूसरे लोगों से निवेश करवाते थे। आज न केवल उनके स्वाभिमान को ठेस पहुंची है, वे डरे हुए भी हैं। राज्य सरकार आपके निडर और गरिमापूर्ण जीवन के लिए हर संभव प्रयास करेगी। संजीवनी घोटाले के शिकार पारसमल जैन ने सीएम से कहा, मैं आपसे पांच बार मिल चुका हूं। मेरे संजीवनी खाते में ढाई करोड़ रुपये जमा थे। मेरा बच्चा बीमार है, पैसा नहीं है, अब सरकार से सिर्फ उम्मीद है। , मेरी सहायता करो। इस पर गहलोत ने जवाब दिया, इस तरह से जमा की लूट किसी के परिवार के लिए वज्रपात के समान है। हम आपके आंसू और दर्द समझ सकते हैं।
शेखावत ने सीएम के बयानों को बनाया आधार 
गजेंद्र सिंह शेखावत ने होली से पहले दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ मानहानि का दावा दायर किया। दावे में शेखावत ने सीएम के बयानों को आधार बनाया है, जिसमें गहलोत ने कहा था कि ‘गजेंद्र सिंह न सिर्फ संजीवनी घोटाले के आरोपी हैं, बल्कि उनकी पत्नी, माता-पिता और बहनोई समेत उनका पूरा परिवार भी आरोपी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।