वसुंधरा राजे ने द्रव्यवती नदी परियोजना को लेकर कांग्रेस से कहा- राजनीति की जगह जनहित के नजरिए से देखें

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री नेता वसुंधरा राजे ने अपने कार्यकाल की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में से एक द्रव्यवती नदी परियोजना में कथित अव्यवस्था को लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा।

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी की नेता वसुंधरा राजे ने अपने कार्यकाल की महत्वाकांक्षी परियोजनाओं में से एक द्रव्यवती नदी परियोजना में कथित अव्यवस्था को लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार पर गुरुवार को निशाना साधा और कहा कि राज्य सरकार इस परियोजना को राजनीतिक चश्मे से देखने के बजाय जनहित के नजरिए से देखें। 
राजे ने ट्वीट किया, ‘‘द्रव्यवती रिवर फ्रंट ना सिर्फ हमारी भाजपा सरकार की एक महत्वाकांक्षी परियोजना थी, बल्कि जयपुर के लाखों लोगों की उम्मीद भी थी। इसके लिए हमने एक संकल्प लिया तथा हम 1,400 करोड़ रुपये की लागत से एक गंदे नाले को सुंदर एवं स्वच्छ नदी के रूप में परिवर्तित करने की दिशा में आगे बढे़।’’

उन्होंने कहा कि इस परियोजना का कार्य पूरा होते ही करीब 47 किलोमीटर लम्बे रिवर फ्रंट (नदी किनारे का क्षेत्र) के रूप में एक नये, खूबसूरत एवं स्वच्छ जयपुर की छवि निखर कर सबके सामने आई थी। राजे ने आरोप लगाया है कि राज्य सरकार की संवेदनहीनता एवं लापरवाही के चलते द्रव्यवती परियोजना भी अब अव्यवस्था का शिकार हो गया है।
भाजपा नेता ने लिखा है, ‘‘मेरा राज्य सरकार से आग्रह है कि द्रव्यवती रिवर फ्रंट परियोजना को राजनीतिक चश्मे से देखने के बजाय जनहित के नजरिए से देखें, ताकि यह परियोजना पर्यटन स्थल के रूप में देश और दुनिया में एक उदाहरण बन सके तथा जयपुर की सुंदरता में चार चांद लगा सके।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।