Search
Close this search box.

कांग्रेस के ‘संकटमोचन’ रहे अहमद पटेल के बेटे फैसल भी छोड़ेंगे पार्टी का हाथ? कहा- खुले हुए हैं मेरे विकल्प

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिवंगत अहमद पटेल के पुत्र फैसल पटेल ने कांग्रेस को एक बड़ा झटका देते हुए कहा कि “वह अपने विकल्प खुले रख रहे हैं।”

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिवंगत अहमद पटेल के पुत्र फैसल पटेल ने कांग्रेस को एक बड़ा झटका देते हुए कहा कि “वह अपने विकल्प खुले रख रहे हैं।” मंगलवार को अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर फैसल पटेल ने कहा कि वह इंतजार करते हुए थक चुके हैं, लेकिन कांग्रेस नेतृत्व की तरफ से कोई उत्साह नजर नहीं आ रहा है और ऐसे में उन्होंने अपने विकल्प खुले रखे हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘इंतजार करते हुए थक गया हूं। शीर्ष नेतृत्व से कोई उत्साह नहीं मिला। मेरे विकल्प खुले हुए हैं।’’ मूल रूप से गुजरात से ताल्लुक रखने वाले फैसल पटेल ने राज्य विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले यह टिप्पणी की है। 
1649146246 f
राजनीति में नहीं आना चाहते थे फैसल पटेल?
बता दें कि फैसल ने पिछले साल अप्रैल में आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात भी की थी। फैसल का यह बयान तब आया है जब 27 मार्च को पटेल ने कहा था कि वह राजनीति में अपने औपचारिक प्रवेश के बारे में “निश्चित नहीं” थे, लेकिन वह अपने गृह जिले भरूच और नर्मदा में “पर्दे के पीछे से” कांग्रेस पार्टी के लिए काम करेंगे।
उन्होंने कहा था, ‘मैं फिलहाल राजनीति में नहीं आ रहा हूं और अभी पार्टी में शामिल होने को लेकर आश्वस्त नहीं हूं। हालांकि, फैसल ने कहा कि अगर वह राजनीति में शामिल होते हैं, तो वह “चुनावी राजनीति में प्रवेश नहीं कर सकते, लेकिन पार्टी के लिए काम कर सकते हैं।”
सोनिया गांधी के सलाहकार थे अहमद पटेल 
लंबे समय तक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार और पार्टी के संकटमोचक रहे अहमद पटेल का कोविड संक्रमण के बाद हुई स्वास्थ्य संबंधी जटिलताओं के चलते 25 नवंबर 2020 को निधन हो गया था। बता दें कि देश में 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के शर्मनाक प्रदर्शन के बाद जी -23 के नेताओं ने भी पार्टी नेतृत्व में सुधार की अपनी मांग दोहराई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three + 9 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।