Search
Close this search box.

कश्मीर में आतंकवाद फैलाने के लिए चीन -पाकिस्तान के गठजोड़ का मिला सबूत, रामबन में आतंकियों से मिली चीनी पिस्तौल

जम्मू कश्मीर के रामबन जिला स्थित एक वनक्षेत्र में रविवार को सुरक्षा बलों ने एक आतंकवादी ठिकाने का भंडाफोड़ किया और वहां से कुछ हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किये। यह जानकारी पुलिस ने दी है।

जम्मू कश्मीर के रामबन जिला स्थित एक वनक्षेत्र में रविवार को सुरक्षा बलों ने एक आतंकवादी ठिकाने का भंडाफोड़ किया और वहां से कुछ हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किये। यह जानकारी पुलिस ने दी है।
चीन निर्मित हथियार बरामद, वायरलेस सेट जब्त 
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गूल उपमंडल के संगलदान के तेथरका वनक्षेत्र में पुलिस और सेना के एक संयुक्त अभियान के दौरान आतंकी ठिकाने का पता चला। उन्होंने कहा कि एक अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर, मैगजीन के साथ चीन निर्मित एक पिस्तौल और 36 कारतूस, एक चाकू, एके-47 राइफल की चार मैगजीन एवं 198 कारतूस, नौ एमएम पिस्तौल के 69 कारतूस, एक दूरबीन, एक कैमरा और एक वायरलेस सेट जब्त किया गया।
आपको बता दे की चीनी निर्मित पिस्तौल कोई आतंकियों के पास से पहली बार बरामद नहीं की गई हैं, इससे पहले भी कई बार भारतीय सुरक्षाबलों को चीन में निर्मित पिस्तौल मिल चुकी हैं। पाकिस्तानी जिहादी आतंकी चीनी हथियारों की मदद लेकर कश्मीर में रक्तपात करना की मंसूबे पाले रखे हैं, पिछले साल आतंकियों के पास से अफगानिस्तानी हथियार भी बरामद किए गए थे जो तालिबानी आतंकियों ने अमेरिकी सैनिकों के साथ जंग लड़ी थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen + four =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।