राजस्थान : घायल नाबालिग की सर्जरी की गई, आरोपियों की पहचान के लिये सीसीटीवी खंगाले जा रहे - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

राजस्थान : घायल नाबालिग की सर्जरी की गई, आरोपियों की पहचान के लिये सीसीटीवी खंगाले जा रहे

राजस्थान के अलवर जिले में मंगलवार को लापता होने के बाद घर से करीब 25 किलोमीटर दूर घायल अवस्था में मिली 15 वर्षीय किशोरी की बुधवार को जयपुर के अस्पताल में शल्य चिकित्सा की गई।

राजस्थान के अलवर जिले में मंगलवार को लापता होने के बाद घर से करीब 25 किलोमीटर दूर घायल अवस्था में मिली 15 वर्षीय किशोरी की बुधवार को जयपुर के अस्पताल में शल्य चिकित्सा की गई। पीड़िता के निजी अंगों में गंभीर चोट के कारण सर्जरी में ढाई घंटे का समय लगा।
दुष्कर्म का मामला
पुलिस ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह दुष्कर्म का मामला प्रतीत होता है। हालांकि, अब तक इस बारे में पुष्टि नहीं हो पाई है। मामले की जांच के लिए पुलिस की कई टीम गठित की गई हैं लेकिन पीड़िता के साथ हुई घटना के बारे में पुलिस को अब तक कोई खास जानकारी नहीं मिल सकी है। पीड़िता मंगलवार रात नौ बजे अलवर के तिजारा फाटक के पास सड़क पर घायल अवस्था में मिली थी।
इस बीच, जयपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक संजय क्षोत्रिय ने बुधवार को घटना के संबंध में अलवर का दौरा किया और स्थानीय पुलिस को आवश्यक निर्देश दिये।
जांच के दिये निर्देश
अधिकारिक सूत्रों के अनुसार, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पुलिस महानिदेशक एम एल लाठर से इस मामले में एक रिपोर्ट मांगी है और विस्तृत जांच के निर्देश दिये हैं।
पीड़िता को मंगलवार रात को अलवर के जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां से चिकित्सकों ने बीती रात उसे जयपुर के जे.के. लोन अस्पताल में भेज दिया। बुधवार को पीड़िता की जे के लोन अस्पताल में शल्य चिकित्सा की गई।
अस्पताल के अधीक्षक डॉ अरविंद शुक्ला ने बताया कि पीड़िता की चोट गहरी थी और इसकी शल्य चिकित्सा में करीब ढाई घंटे का समय लगा।
पीड़िता का उपचार जारी
शुक्ला ने बताया कि पीड़िता का उपचार जारी है। उन्होंने कहा कि वह मानसिक रूप से अक्षम है और ठीक से बोल नहीं पा रही है। शुक्ला ने बताया कि मेडिकल रिपोर्ट से पता चल पाएगा कि चोट यौन उत्पीड़न के कारण हुई या किसी और चीज के हमले के कारण चोट पहुंची है।
इस बीच, स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा, उद्योग मंत्री शकुंतला रावत, महिला एवं बाल कल्याण मंत्री ममता भूपेश ने अस्पताल का दौरा कर पीड़िता से मुलाकात की। उन्होंने चिकित्सकों से लड़की के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी भी ली।
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अस्पताल प्रशासन बालिका की पूरी देखरेख कर रहा है और वह खतरे से बाहर है। उन्होंने पीड़िता का निशुल्क उपचार करने और परिजनों के रहने व खाने-पीने की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए।
पीड़िता को राज्य सरकार की ओर से दी जाएगी आर्थिक मदद 
उद्योग मंत्री शकुंतला रावत ने कहा कि पीड़िता को राज्य सरकार की ओर से आर्थिक मदद दी जाएगी।
वहीं, अलवर पुलिस को पीड़िता के साथ मंगलवार रात घटी घटना के बारे में जानकारी जुटाने में सफलता नहीं मिल सकी है। अलवर पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने बताया कि मामले की जांच के लिये अलग-अलग पुलिस टीम गठित की गई हैं।
गौतम ने बुधवार को बताया कि क्षेत्र में लगे करीब 150 सीसीटीवी कैमरों की जांच की जा रही है और 3-4 संदिग्धों से पूछताछ की गई है।
उन्होंने बताया कि पीड़िता मानसिक रूप से अक्षम है और ठीक से बोल नहीं पा रही है। उन्होंने कहा कि एक मनोवैज्ञानिक और ऐसे बच्चों का इजाल करने वाले पेशेवरों से संपर्क किया गया है ताकि पीड़िता से बातचीत की जा सके।
एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि किशोरी अलवर के मालाखेड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली है और मंगलवार शाम को करीब चार बजे उसके परिजनों को पता चला कि वह घर से लापता है।
उन्होंने बताया कि परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की और जब वे उसका पता नहीं लगा पाये तो पुलिस चौकी पहुंचे। इस बीच, किशोरी को उसके घर से करीब 25 किलोमीटर दूर तिजारा फाटक के पास से बरामद किया गया।
वसुंधरा राजे ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा 
उधर, भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अलवर में नाबालिग के साथ हुई घटना ने ना सिर्फ राजस्थान को शर्मसार किया है बल्कि कांग्रेस सरकार की लचर कानून-व्यवस्था की पोल खोल दी है।
राजे ने ट्वीट कर कहा, ‘‘नारी स्वाभिमान के पर्याय राजस्थान में बेटियों पर हो रहे अत्याचार को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले में देश में अव्वल बन चुके राजस्थान को शोषण मुक्त बनाने के लिए कांग्रेस सरकार को सख्त कदम उठाने चाहिए।’’
राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार नीति और नीयत से गूंगी-बहरी है – भाजपा प्रदेशाध्यक्ष
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने कहा कि अलवर में नाबालिग के साथ हुई घटना वीभत्स है और मानवता को शर्मसार करने वाली है। उन्होंने आरोप लगाया कि राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार नीति और नीयत से गूंगी-बहरी है जिसको पीड़िता की चीखें सुनाई नहीं दे रही हैं।
पूनियां ने इस घटना की जांच के लिये चार सदस्यीय समिति का गठन किया है। जांच समिति में पार्टी की राष्ट्रीय मंत्री अल्का गुर्जर, दौसा सांसद जसकौर मीणा, भाजपा महिला मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष अल्का मूंदड़ा और विधायक रामलाल शर्मा को शामिल किया गया है।
पूनियां ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी पर निशाना  साधा
पूनियां ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या आप चैन से अपना जन्मदिन मना लेंगी?
उल्लेखनीय है कि प्रियंका गांधी बुधवार को राजस्थान के रणथंभोर में परिवार के साथ अपना जन्मदिन मनाने आयी हैं।
पूनियां ने ट्वीट कर कहा, ‘‘प्रियंका जी, ज़रा राजनैतिक पर्यटन से बाहर भी निकलो, यू.पी. में नौटंकी और राजस्थान में पर्यटन। इसी रणथंभोर तक अलवर सहित वहशी दरिंदों के द्वारा नोची गयी राजस्थान की पीड़िता, बहन-बेटियों की चीखें नहीं सुनेंगी? क्या आप चैन से अपना जन्मदिन मना लेंगी ? ’’
राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) के संयोजक और नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी ट्वीट कर मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।