राम मंदिर में बढ़ते सैलाब से दान का लगा ढेर, 11 दिन में हुआ इतना कलेक्‍शन

Ram Mandir Devotees

Ram Mandir Devotees: लंबे इंतजार के बाद पूरे देशवासी अयोध्‍या के राम मंदिर में विराजे रामलला के दर्शन करने के लिए आ रहे हैं। ऐसे में दान में इजाफा देखने को मिल रहा है।

Ram Mandir Devotees

अबतक 25 लाख से ज्‍यादा श्रद्धालु दर्शन करने आ चुके हैं

अयोध्‍या के राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्‍ठा हुए अभी 11 दिन ही हुए हैं और यहां पहुंचने वाले भक्‍तों की संख्‍या रोज रिकॉर्ड तोड़ रही है। 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्‍ठा के बाद 23 जनवरी से मंदिर को आम श्रद्धालुओं (Ram Mandir Devotees) के लिए खोला गया था। इसके बाद से 11 दिन में राम मं‍दिर में 25 लाख से ज्‍यादा श्रद्धालु रामलला के दर्शन करने पहुंचे। इतना ही नहीं अपने आराध्‍य प्रभु राम के लिए भक्‍तगण खुले हाथों से चढ़ावा भी चढ़ा रहे हैं।

Ram Mandir Devotees

11 दिन में 11 करोड़ रुपए का दान

रामलला के दर्शन करने आए भक्‍त खुलकर दान दे रहे हैं। 11 दिन में ही राम मंदिर ट्रस्‍ट को चढ़ावे के रूप में भक्‍तों से 11 करोड़ रुपए मिल चुके हैं। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुताबिक पिछले 10 दिनों में दान पेटियों (Ram Mandir Devotees) में करीब 8 करोड़ रुपये जमा हुए हैं और करीब 3.50 करोड़ रुपये ऑनलाइन प्राप्त हुए हैं।

Ram Mandir Devotees

दान के रुपए गिन रहे कर्मचारी

मंदिर ट्रस्ट ने दान में आए धन को गिनने के लिए कई कर्मचारी लगाए हैं। रामभक्‍तों को चढ़ावा चढ़ाने के लिए मंदिर में अलग-अलग जगहों पर दान पेटियां रखी गई हैं। गर्भगृह के सामने दर्शन पथ के पास ही 4 बड़े आकार (Ram Mandir Devotees) की दान पेटियां रखी गई हैं, जिनमें श्रद्धालु दान कर रहे हैं। इसके अलावा 10 कम्प्यूटरीकृत काउंटर भी बनाए गए हैं साथ ही मंदिर में रखी गईं दान पेटियों के रुपयों को गिनने के लिए बैंक कर्मचारियों की भी मदद ली जाती है। यह सारी प्रक्रिया सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में की जाती है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + 7 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।