लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

उपराज्यपाल सिन्हा ने कहा- ‘जम्मू कश्मीर में आतंकियों से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को खुली छूट दी गई है’

जम्मू-कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने रविवार को आतंकवादियों द्वारा कश्मीरी पंडित समुदाय के एक व्यक्ति की हत्या की निंदा की

जम्मू-कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने रविवार को आतंकवादियों द्वारा कश्मीरी पंडित समुदाय के एक व्यक्ति की हत्या की निंदा की। उन्होंने कहा कि उनके प्रशासन ने आतंकवादियों से निपटने के लिए सुरक्षा बलों को खुली छूट दी है। शिवसेना(यूबीटी) के कार्यकर्ताओं ने हत्या की निंदा करने के लिए पाकिस्तान विरोधी और आतंकवाद विरोधी प्रदर्शन किये, जबकि कांग्रेस की जम्मू कश्मीर इकाई ने कहा कि केंद्र को लक्षित हत्याओं को रोकने के लिए पर्याप्त उपाय करने चाहिए। प्रदेश कांग्रेस ने घाटी में सामान्य स्थिति लौटने का दावा कर लोगों को बेवकूफ बनाने के बजाय बेशकीमती जान बचाने पर ध्यान देने की केंद्र से अपील की। गौरतलब है कि एक एटीएम के सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करने वाले संजय शर्मा (40) की आतंकवादियों ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिला स्थित अचन इलाके में रविवार को गोली मार कर हत्या कर दी। हमले की निंदा करते हुए उपराज्यपाल ने कहा कि प्रशासन शोक संतप्त परिवार के साथ मजबूती से खड़ा है।
1677417719 87452032
कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया
उन्होंने यहां एक बयान में कहा, ‘‘शोकाकुल परिवार के प्रति मेरी संवेदना है। प्रशासन को आतंकवादियों से निपटने के लिए खुली छूट दी गई है और हम आतंकवाद की इस तरह की हरकतों का मुकाबला करना जारी रखेंगे।’’ शिवसेना(उद्धव बालासाहेब ठाकरे) की जम्मू कश्मीर इकाई के कार्यकर्ताओं ने अपने अध्यक्ष मनीष साहनी के नेतृत्व में केंद्र शासित प्रदेश के बाहरी इलाके में चन्नी हिम्मत स्थित पार्टी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान विरोधी और आतंकवाद विरोधी नारेबाजी के बीच साहनी ने कहा, ‘‘स्थिति सामान्य होने के सरकार के दावे के बावजूद आतंकवादी घाटी में अक्सर लक्षित हत्याएं कर रहे हैं। हम हत्या की निंदा करते हैं और जम्मू में पिछले आठ महीनों से आंदोलनरत हिंदू कर्मचारियों को दूसरे स्थानों पर भेजने की मांग करते हैं।’’
यह हमला चिंता का विषय है
कांग्रेस की जम्मू कश्मीर इकाई के मुख्य प्रवक्ता रविंदर शर्मा ने रविवार हो हुई हत्या की निंदा की और कहा कि यह हमला चिंता का विषय है और बेकसूर नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में सरकार की नाकामी को प्रदर्शित करता है।
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘स्थिति सामान्य होने के खोखले दावे करने के बजाय, सरकार को अल्पसंख्यकों और अन्य बेकसूर नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए। कश्मीरी पंडित और डोगरा कर्मचारी जम्मू में प्रदर्शन कर रहे हैं तथा सरकार उन्हें घाटी में काम पर लौटने के लिए विवश कर रही है, जो इस तरह के माहौल में संभव नहीं है।’’ कांग्रेस की जम्मू कश्मीर इकाई के प्रवक्ता जहांजैब सिरवाल ने लक्षित हत्याओं को अंजाम देने वालों को सख्त सजा देने की मांग की। सिरवाल ने कहा, ‘‘इस जघन्य अपराध को अंजाम देने वालों की पहचान की जाए और अनुकरणीय सजा दी जाए।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।