धनतेरस के दिन बरसेगा धन ही धन, घर के एक पौधे में दबा देना ये एक चीज

हिंदू पंचांग के अनुसार, इस साल 10 नवंबर 2023 को दोपहर 12 बजकर 35 मिनच से धनतेरस की शुरुआत होगी और 11 नवंबर 2023 को दोपहर 1 बजकर 57 मिनट पर इसका समापन होगा। इसलिए उदया तिथि के अनुसार, इस बार 10 नवंबर को ही धनतेरस मनाया जाएगा।

वहीं दिवाली इसके 2 दिन बाद 12 नवंबर को मनाई जाएगी. धनतेरस के दिन आयुर्वेद के देवता भगवान धन्‍वंतरी और धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है. घर, गाड़ी, सोना-चांदी जैसी कीमती धातुओं को खरीदने के लिए धनतेरस का दिन सबसे ज्‍यादा शुभ माना गया है।आइए जानते हैं साल 2023 में धनतेरस की पूजा करने के लिए शुभ मुहूर्त क्‍या है।

dhan1

कार्तिक मास के कृष्‍ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि यानी कि धनतेरस 10 नवंबर की दोपहर 12:35 बजे से प्रारंभ होगी और 11 नवंबर की दोपहर 01:57 बजे तक रहेगा। इस दौरान पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 06:02 बजे से रात 08:00 बजे तक करीब 1 घण्टा 58 मिनट का रहेगा।

धनतेरस पूजा विधि

धनतेरस के दिन भगवान धन्वंतरि, देवी लक्ष्मी एवं कुबेर देव की कृपा प्राप्त करने के लिए शुभ मुहूर्त कुबेर देव और भगवान धन्वंतरि की स्थापना करें।साथ ही माता लक्ष्मी और भगवान गणेश की भी मूर्ति या चित्र स्थापित करें।सभी देवी-देवताओं को तिलक लगाएं, पुष्प, फल, मिठाई आदि अर्पित करें. दीपक जलाएं. साथ ही ऊं ह्रीं कुबेराय नमः मंत्र का जाप करें।

ज्योतिष शास्त्र में कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं जिन्हें धनतेरस के दिन करने से व्यक्ति के सभी दुःख-दर्द दूर हो जाते हैं।

धनतेरस के दिन करें ये उपाय

यदि नौकरी व्यापार में किसी तरह की परेशानी आ रही है तो उसे दूर करने के लिए मां दुर्गा की पूजा कर उन्हें 10 फल अर्पित करें। फिर इन फलों को गरीबों में बांट दें। इससे सभी दुख दर्द दूर हो जाते हैं।

धनतेरस के दिन एक, दो, पांच या दस रुपए का सिक्का लें। उस सिक्के पर कुमकुम छिड़कें और फिर उसे सिक्के को तुलसी के पौधे में गाढ़ दें।तुलसी को मां लक्ष्मी का रूप माना गया है। ऐसे में इस उपाय को करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होंगी और अपनी कृपा पूरे परिवार पर बरसाएंगी।

dhan22

धनतेरस पर्व के दिन पूजा-पाठ के दौरान गोमती चकर का इस्तेमाल करने से व्यक्ति को विशेष लाभ मिलता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन 5 गोमती चकर पर चंदन का तिलक लगाकर माता लक्ष्मी की वन्दना करें और मंत्रों का जाप करें।

ज्योतिष शास्त्र में एक टोटका यह भी बताया गया है कि इस दिन लक्ष्मी-गणेश और भगवान कुबेर की पूजा के बाद रात के समय 21 चावल के दाने लाल रंग के कपड़ें में बांधकर तिजोरी या धन के स्थान पर रख दें। ऐसा करने से धन वृद्धि होती है।

धनतेरस के दिन शमी के पेड़ के नीचे दीपक जलाने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

धनतेरस के दिन पीले वस्त्र में एक नारियल लपेटकर एक जोड़ा जनेऊ को मिठाई के साथ किसी मंदिर में दान कर दें। ज्योतिष के अनुसार, इस उपाय को करने से कारोबार में हो रहे घाटे को रोका जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।