राजस्थान: अजमेर में भिखारियों की पिटाई कर उन्हें ‘पाकिस्तान जाओ’ कहा, पांच लोग गिरफ्तार

राजस्थान के अजमेर शहर की एक आवाासीय कॉलोनी में कथित रूप से भिक्षावृत्ति को लेकर दो लोगों से मारपीट करने और उन्हें ‘पाकिस्तान जाओ’ कहने का एक कतिपय वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने इस सिलसिले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।

देश में अक्सर कई मारपीट के वीडियो सामने आते रहते है, जो कभी-कभी रूह को हिलाकर रख देते है। ऐसा ही एक वीडियो राजस्थान से सामने आया है। अजमेर शहर की एक आवाासीय कॉलोनी में कथित रूप से भिक्षावृत्ति को लेकर दो लोगों से मारपीट करने और उन्हें ‘पाकिस्तान जाओ’ कहने का एक कतिपय वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने इस सिलसिले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।
रामगंज के थानाधिकारी सतेंद्र सिंह ने बताया कि शुक्रवार को एक वीडियो सामने आया जिससे इस घटना का पता चला। पुलिस ने इस सिलसिले में पांच लोगों को भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा-151 के तहत गिरफ्तार किया था जिन्हें बाद में जमानत दे दी गई। हालांकि, बाद में मुस्लिम समुदाय के कुछ सदस्यों द्वारा घटना पर आपत्ति जताए जाने के बाद पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं में मंगलवार को मामला दर्ज किया।
पुलिस ने बताया कि मामले के मुख्य आरोपी ललित शर्मा को शुक्रवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया था, वहीं अन्य आरोपियों शैलेंद्र टाक, तेजपाल, सुरेंद्र तथा रोहित को शनिवार को गिरफ्तार किया गया। थानाधिकारी ने बताया कि पुलिस ने वीडियो पर स्वत: संज्ञान लेते हुए कार्रवाई की है। पीड़ितों की पहचान नहीं हो सकी और उनकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया, ‘‘पीड़ित वेशभूषा से मुस्लिम दिख रहे थे।’’
इस वीडियो में एक लड़का एक पुरूष और महिला साथ नजर आ रहे हैं। पांच युवक इन्हें एकतरफ ले जाकर उनसे मारपीट करते नजर आ रहे हैं। वीडियो में मुख्य आरोपी ललित लड़के को पीटता दिख रहा है। उसने दूसरे आदमी को भी कॉलोनी में भीख मांगने के लिए पीटा और उन्हें भीख मांगने के लिए पाकिस्तान जाने को कहा।
इस बीच मुस्लिम समुदाय के कुछ सदस्यों ने पुलिस अधिकारियों से संपर्क कर इस मामले पर आपत्ति जताई। उनका कहना था कि इससे उनकी धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। थानाधिकारी ने कहा कि पुलिस ने आज भारतीय दंड संहिता की धारा 153-ए, 295 ए, 323 व 341 के तहत मामला दर्ज किया है। उन्होंने कहा कि मामले में कोई ताजा गिरफ्तारी नहीं की गई है और जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 + 15 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।